Warning: mysqli_real_connect(): Headers and client library minor version mismatch. Headers:100508 Library:100236 in /home/u248481792/domains/hpexams.in/public_html/wp-includes/wp-db.php on line 1653
राजनीति विज्ञान (सरकार-1) – HPExams.in
+91 8679200111
hasguru@gmail.com

राजनीति विज्ञान (सरकार-1)

सभी शासन शिक्षा की एक पद्धति है, परन्तु श्रेष्ठ शिक्षा
स्वशिक्षा है इसलिए श्रेष्ठतम शासन स्वशासन है जो कि
लोकतन्त्र है’ यह किसने कहा है ?
सी० डी० बर्न्स
कौन लोकतन्त्र के आदर्शपरक सिद्धान्त का प्रतिपादक है ?
मैकफरसन
संसदात्मक सरकार में कार्यपालिका अपने समस्त कार्यों
तथो नीतियों के लिए उत्तरदायी हाती है –
विधानमण्डल के प्रति
संवैधानिक शासन का अर्थ है-
संविधान के प्रावधानों के अनुरूप शालन, विधि का शासन, नागरिक अधिकार, सीमित शासन
किस देश-समूह के देशों के संविधान एकात्मक हैं ?
ग्रेट ब्रिटेन, चीन और फ्रांस
संघीय संविधान की सामान्य विशेषताएं बताइए-
1. लिखित और दुष्परिवर्तनशील संविधान
2. केन्द्र और संवैधानिक इकाइयों के मध्य शक्तियों का बैटवारा
3.द्विसदनीय राष्ट्रीय विधानमण्डल
संघात्मक राज्यों में किसमें संघांतरित इकाइयों संघीय विधायिका के उच्च सदन में समान प्रतिनिधित्व नहीं दिया गया है ?
भारत
अध्यक्षात्मक प्रणाली का कार्य सिद्धान्त है-
शक्तियों का पृथक्ककरण
अध्यक्षात्मक शासन प्रणाली का प्रमुख गुण यह है कि-
यह कार्यकारिणी की स्थिरता सुनिश्चित करती है
संसदात्मक और अध्यक्षात्मक शासन प्रणालियों में भेद
करने का मूल आधार है-
विधायिका एवं कार्यपालिका के पारस्परिक सम्बन्ध
“सरकार के निरंकुश कार्यों को सीमित करना” किसने यह संविधान का कार्य बताया है ?
सी० एफ० स्ट्रांग
संविधान के बिना राज्य, राज्य न होकर अराजकता का
शासन होगा। यह किसने कहा है ?
जैलीनेक
एकात्मक राज्य वह है जिसमें समस्त सत्ता व शक्ति एक
केन्द्र में निहित रहती है, जिसकी इच्छा और जिसके
अभिकर्ता सम्पूर्ण क्षेत्र पर वैधानिक रूप से सर्वशक्तिमान
होते हैं। यह कथन किसका है ?
हरमन फाईनर
किसने संघात्मक सरकार की परिभषा इस प्रकार दी है?
एक संघात्मक राज्य एक ऐसे राजनीतिक उपाय के अतिरिक्त कुछ नहीं है, जिसका उद्देश्य राष्ट्रीय एकता तथा राज्य अधिकारों में मेल रखना है।”
ए० वी० डायसी
संसदीय व्यवस्था दल की भावना को साधन बनाती है
और हमेशा इसे जीवंत रखती है।” यह किसने कहा है ?
लॉर्ड ब्राइस
कौन-सा संसदीय शासन प्रणाली का अविच्छिन्न तत्त्व है ?
कार्यपालिका और विधायिका का संयोजन
किसने कहा है कि बहुमत की राजनीतिक प्रगति अल्पमत को वीटो (निषेधाधिकार) करने का अधिकार दिया जा सकता है ?
प्रधानमन्त्री एटली
संवैधानिक शासन का अर्थ है :
(a) संविधान की व्यवस्था के अनुरूप शासन।
(b) विधि के शासन पर आधारित शासन ।
(c) लोकतांत्रिक सरकार।
यह किसका विचार था कि “सरकार के निरंकुश कार्यों को
सीमित करना” संविधान का कार्य है ?
स्ट्रांग
“लिखित और अलिखित संविधानों के बीच केवल मात्रा
भेद है, प्रकार का नहीं ।” यह अभिमत था :
गार्नर का
‘एकात्मक राज्य वह है, जिसमें समस्त सत्ता एवं शक्ति
एक केन्द्र में निहित रहती है, जिसकी इच्छा और जिसके
अभिकर्ता संपूर्ण क्षेत्र पर वैधानिक रूप से सर्वशक्तिमान
होते हैं।” यह कथन किसका है ?
हरमन फाइनर
किस राज्य को पूर्ण राज्य बनाने से पूर्व सहचारी राज्य’ का दर्जा दिया गया था ?
सिक्किम
अध्यक्षात्मक शासन प्रणाली का प्रमुख गुण यह है कि :
यह कार्यपालिका की स्थरता सुनिश्चित करता है
संसदात्मक तथा अध्यक्षात्मक के रूप में सरकारों के वर्गीकरण का आधार है :–
विधायिका-कार्यपालिका सम्बन्ध
कौन संपूर्ण वयस्क मताधिकार का विरोधी था?
टी० एच० जे० एस० मिल
“संसदीय सरकार में मन्त्रिमण्डलीय उत्तरदायित्व की आड
में नौकरशाही पनपती है।” यह कथन किसका है ?
रैम्जे म्योर

एकात्मक व्यवस्था में-
केन्द्र सर्व शक्तिशाली होता है।
अध्यक्षात्मक शासन प्रणाली में कौन सही है–
मंत्री राष्ट्रपति के प्रसाद पर्यन्त अपने पद पर रहते हैं।
अध्यक्षीय शासन प्रणाली के विषय में कौन सत्य है ?
राष्ट्रपति को व्यवस्थापिका द्वारा महाभियोग की प्रक्रिया से हटाया जा सकता है।
संघ की सफलता के लिये निम्नलिखित में से कौन-सा
आवश्यक है ?
भौगोलिक संलग्नता, समुचित संसाधन, हितों की समानता
कौन एक अध्यक्षात्मक प्रणाली की विशेषता नहीं है ?
सामूहिक उत्तरदायित्व
‘सत्ता के ऊपर सत्ता की मर्यादा होनी चाहिए’ इस सिद्धान्त पर किसकी आस्था थी ?
माण्टेस्क्यू
संसदीय शासन का मूल सिद्धान्त है-
व्यवस्थापिका तथा कार्यपालिका के मध्य एकीकरण।

Leave a Reply