Warning: mysqli_real_connect(): Headers and client library minor version mismatch. Headers:100508 Library:100236 in /home/u248481792/domains/hpexams.in/public_html/wp-includes/wp-db.php on line 1653
भारतीय अर्थव्यवस्था (अर्थव्यवस्था के महत्वपूर्ण तथ्य एवं आर्थिक शब्दावली-1) – HPExams.in
+91 8679200111
hasguru@gmail.com

भारतीय अर्थव्यवस्था (अर्थव्यवस्था के महत्वपूर्ण तथ्य एवं आर्थिक शब्दावली-1)

भारतीय अर्थव्यवस्था (Economy) कैसी है?
Mixed (मिश्रित)
मिश्रित अर्थव्यवस्था का क्या अभिप्राय है?
सरकारी एवं निजी क्षेत्र का सह-अस्तित्व
बन्द अर्थव्यवस्था (closed economy)-
वह अर्थव्यवस्था है, जिसमें न तो निर्यात, न ही आयात होता है
किसने अहस्तक्षेप के सिद्धांत की वकालत की थी? –
एड्म स्मिथ।
“Fourth Estate” का प्रयोग किसके लिया किया जाता है?
प्रेस
आर्थिक विकास के दृष्टिकोण से भारत की गिनती होती है-
विकासशील राष्ट्र के रूप में
भारतीय अर्थव्यवस्था का कौन-सा क्षेत्र सकल राष्ट्रीय उत्पाद में सबसे अधिक योगदान करता है?
तृतीयक क्षेत्र
अर्थव्यवस्था का तृतीय (टर्शरी) क्षेत्र क्या है?
सेवा क्षेत्र
जैसे-जैसे अर्थव्यवस्था का विकास होता है, वैसे-वैसे GDP में तृतीय क्षेत्र का अंश-
बढ़ता है
भारतीय अर्थव्यवस्था में कौन-सा तृतीयक क्षेत्र में सम्मिलित है?
परिवहन।
भारत की कुल श्रमशक्ति का लगभग कितना भाग कृषि में लगा हुआ है?
54%
भारत में अधिकतर बेरोजगारी है-
संरचनात्मक
संरचनात्मक बेरोजगारी का कारण है-
अपर्याप्त उत्पादन क्षमता
भारत में बेरोजगारी के आँकड़े एकत्रित एवं प्रकाशित करता है
एन० एस० एस० ओ० NSSO
भारत में बेरोजगारी की किस्म पायी जाती है
ग्रामीण अल्प रोजगार, चक्रीय बेरोजगारी, संरचनात्मक बेरोजगारी
प्रच्छन्न बेरोजगारी एक विशेषता है-
कृषि की
कृषि में मूलतः किस प्रकार की बेरोजगारी की प्रधानता देखने को मिलती है ?
अदृश्य बेरोजगारी
कृषि में बेरोजगारी का स्वरूप देखने को मिलता है संरचनात्मक बेरोजगारी, मौसमी बेरोजगारी, घर्षणात्मक बेरोजगारी
प्रच्छन्न बेरोजगारी का अर्थ है-
आवश्यकता से अधिक लोगों का कार्यरत होना
भारत में ग्रामीण क्षेत्रों में कौन-सी बेरोजगारी सर्वाधिक पायी जाती है?
मौसमी बेरोजगारी, अदृश्य बेरोजगारी
वर्तमान समय में देश में किस प्रकार की बेरोजगारी की समस्या बहुत गंभीर समस्या बनी हुई है?
शिक्षित बेरोजगारी
राष्ट्रीय ग्रामीण विकास संस्थान कहाँ अवस्थित है?
हैदराबाद
वैश्वीकरण (globalisation) का अर्थ है-
घरेलू अर्थव्यवस्था का वैश्विक अर्थव्यवस्था के साथ एकीकरण
राज्य एवं राष्ट्रीय स्तर पर गरीबी का अनुमान लगाने के लिये योजना आयोग किसके सूत्र का प्रयोग करता है?
डी०टी० लकड़वाला
अन्त्योदय कार्यक्रम का उद्देश्य था-
गरीबों में सबसे अधिक गरीब की मदद करना
कुटीर ज्योति योजना सम्बन्धित है-
ग्रामीण क्षेत्रों में गरीबी रेखा से नीचे जीवन यापन करने वाले परिवारों को विद्युत् सुविधा उपलब्ध कराने से
गरीबी रेखा के नीचे जनसंख्या का न्यूनतम प्रतिशत है-
गोवा में
किस राज्य को अत्यधिक कुपोषण के कारण ‘भारत के
इथोपिया’ कहा जाता है?
मध्य प्रदेश का श्योपुर जिला
वर्ल्ड डेवलपमेंट रिपोर्ट किसका वार्षिक प्रकाशन है?
I.B.R.D.
मानव विकास सूचकांक (HDI) किस अर्थशास्त्री की देन है?
महबूब-उल-हक
कौन-सा मानव विकास सूचकांक का हिस्सा नहीं है?
सकल नाम निवेश दर
मानव विकास सूचकांक (HDI) एक संयुक्त सूचकांक है-
जीवन प्रत्याशा, शैक्षिक उपलब्धि एवं प्रतिव्यक्ति सकल घरेलू उत्पाद
राज्यस्तरीय मानव विकास रिपोर्ट जारी करने वाला प्रथम राज्य है-
मध्य प्रदेश
कौन-सा मानव विकास सूचकांक में शामिल नहीं है ?
सामाजिक असमानता
भारतीय अर्थव्यवस्था के उदारीकरण का अग्रदूत किसको कहा जाता है ?
डॉ० मनमोहन सिंह
मानव विकास सूचकांक किसने बनाया था ?
UNDP
संयुक्त राष्ट्र विकास कार्यक्रम (UNDP) की मानव विकास रिपोर्ट की तर्ज पर भारत की पहली मानव विकास रिपोर्ट कब जारी किया गया?
अप्रैल, 2002
UNDP की मानव विकास रिपोर्ट में भारत को किस श्रेणी में रखा गया है?
मध्यम मानव विकास श्रेणी
योजना आयोग गरीबी रेखा का निर्धारण पोषण आवश्यकताओं के आधार पर निर्धारित करता है। इसके अनुसार ग्रामीण क्षेत्रों में 2400 कैलोरी प्रतिदिन से कम प्राप्त करने वाले लोग गरीबी रेखा के नीचे माने जाते हैं। नगरीय क्षेत्रों के लिए यह कैलोरी अन्तर्गहण है-
2100 कैलोरी
योजना आयोग किसके सर्वेक्षणों के आधार पर निर्धनता रेखा के नीचे के लोगों का आकलन करता है?
राष्ट्रीय नमूना सर्वेक्षण संगठन
किसी देश का आर्थिक विकास निर्भर किस पर करता है ?
प्राकृतिक संसाधन, बाजार का आकार, पूँजी निर्माण
भारत के किस राज्य में गरीबों का प्रतिशत सबसे अधिक है?
ओडिशा
भारत में निर्धनता के स्तर का आकलन किया जाता है-
परिवार के उपभोग व्यय के आधार पर
कौन सा एक असमानता घटाने का उपाय नहीं है?
अर्थव्यवस्था का उदारीकरण
यह सत्य होगा कि भारत को परिभाषित किया जाए-
एक श्रम आधिक्य वाली अर्थव्यवस्था के रूप में
अल्पविकसित देशों में गरीबी का मुख्य कारण है-
आय में असमानता
‘हरित सूचकांक’ किसके द्वारा विकसित किया गया था?
संयुक्त राष्ट्र पर्यावरण कार्यक्रम
किसके द्वारा भ्रष्टाचार से लड़ाई के लिए नागरिकों की
मार्गदर्शिका निकाली गई है?
केन्द्रीय सतर्कता आयोग
किसी अर्थव्यवस्था में क्षेत्रों को सार्वजनिक और निजी में किस आधार पर वर्गीकृत किया जाता है?
उद्यमों का स्वामित्व
उपभोक्ता के अधिशेष को किस तरह परिभाषित कर सकते हैं?
असली कीमत और सम्भावित कीमत के बीच का            समाजवाद पक्षधर है-
समान अवसरों का।
जब सीमांत उपयोगिता धनात्मक हो तो कुल उपयोगिता की स्थिति क्या होगी?
वृद्धिमान।
स्वतन्त्र भारत की आर्थिक नीति निर्माण में श्री. पी.सी. महालनोबिस किस रूप में जुड़े हुए थे?
एक व्यवहारिक सांख्यकी के ज्ञाता के रूप में।
टूट-फूट के कारण स्थायी परिसंपत्तियों के मूल्य में हुई कमी कहलाती है।
ह्रास।
ह्रास का अर्थ होता है- (Depreciation means)
समयांतराल में टूट-फूट के कारण उपकरणों की क्षति।
इमदाद का अर्थ होता है- (Subsidies means)
सरकार द्वारा व्यावसायिक प्रतिष्ठानों को किसी सामान और सेवाओं की खरीद के बिना ही भुगतान किया जाना।
अस्थायी तौर पर मुद्रा स्फीति (महँगाई) पर अंकुश लगाया जा सकता है।
मुद्रा आपूर्ति कम करके।
विभिन्न बाजारों में विभिन्न कीमतों पर वस्तु को बेचना तथा बाजार जहाँ माँग में सापेक्षत: लोच हो कम कीमत प्रभारित करना, कहलाता है-
राशिपातन।
टूट-फूट के कारण स्थिर परिसम्पत्तियों के मूल्य में कमी
कहलाती है।
मूल्यह्वास।
न्यूनतम तरल परिसम्पत्ति इनमें से कौन-सी है?
मशीनें।
तृतीय विश्व का मतलब है-
विकासशील देश
मुद्रा स्फीति के कारण निम्न वर्गों में सबसे अधिक हानि किसे होती है?
लेनदारों को (Creditors)
किसी देश द्वारा दूसरे देश में जाने वाले सामान पर रोक लगाने को क्या कहते हैं?
Embargo
सरकार जिन न्यूनतम कीमतों पर खाद्यान्न खरीदती है, उसे कहा जाता है-
न्यूनतम समर्थन मूल्य।
मंदी के साथ मुद्रास्फीति को कहा जाता है-
स्टैगफ्लेशन
“Bottle Neck मुद्रास्फीति” का अर्थ है –
सकल मांग में वृद्धि के बिना कीमतों में वृद्धि।
“घाटा वित्तपोषण” का अर्थ है
सरकार बजट घाटे के कारण राजस्व के अतिरिक्त खर्च करती है जिसे उधार द्वारा वित्तपोषित किया जाता है।
उदार मुद्रा क्या है?
मुद्रा जिसके पक्ष में भुगतान सन्तुलन की स्थिति प्राप्त हो अथवा जो माँग से अधिक मात्रा में उपलब्ध हो।
मुद्रा का मूल्य घटना तथा वस्तुओं की कीमतें बढ़ना क्या कहलाता है?
मुद्रा स्फीति (Inflation)
कम्पनी द्वारा अपने शेयर होल्डर को अपने लाभ में से दिए जाने वाले अंश को क्या कहते हैं?
लाभांश (Dividend)
विदेशी मुद्रा के तुलना में स्वदेशी मुद्रा का मूल्य घटाने को अर्थशास्त्र में क्या कहते हैं?
अवमूल्यन (Devaluation)
माल्थस का जनसंख्या सिद्धांत क्या है?
माल्थस के अनुसार किसी भी क्षेत्र में जनसंख्या की वृद्धि गुणोत्तर श्रेणी (Geometrical Progression) के अनुसार बढ़ती है, जबकि जीविकोपार्जन में साधन समान्तर श्रेणी (Arithmetic Progression) के अनुसार बढ़ते हैं. इसके अनुसार जनसंख्या की वृद्धि 1, 2, 3, 4, 8, 16, 32, 64, 128, 256……..की दर से बढ़ती है, जबकि जीविकोपार्जन 1, 2, 3, 4, 5, 6, 7, 8, 9 की दर से बढ़ते हैं. अतः शीघ्र ही जनसंख्या इतनी अधिक हो जाएगी कि उसका भरण-पोषण लगभग असंभव हो जायेगा और भुखमरी तथा कुपोषण होना अनिवार्य होगा
न्यूनतम मजदूरी अधिनियम “Minimum Wages Act” कब पारित किया गया ?
1948 ई.
मुद्रा स्फीति (Inflation) कब होती है?
जब सकल घरेलू उत्पाद (GDP) की तुलना में मुद्रा की आपूर्ति उच्च दर से बढ़ती है।
किसी अर्थव्यवस्था में क्षेत्रों को सार्वजनिक और निजी में किस आधार पर वर्गीकृत किया जाता है?
उद्यमों का स्वामित्व
स्टैगफ्लेशन स्थिति है-
मंदी और मुद्रा स्फीति की
कौन-सा भारतीय अर्थव्यवस्था का लक्षण नहीं है?
पर्याप्त पूँजी का होना
विश्व की अर्थव्यवस्था का वर्गीकरण विश्व बैंक प्रति वर्ष कब करता है?
जुलाई, में
भारतीय अर्थव्यवस्था के पिछड़ेपन का सर्वप्रमुख कारण क्या है?
परम्परागत कृषि व्यवस्था, देश की विशाल जनसंख्या, उद्योगों का अल्प विकास
‘आर्थिक विकास’ का तात्पर्य है-
घरेलू उत्पादन में वृद्धि, उत्पादन क्षमता में वृद्धि, आय का समान वितरण एवं आत्मनिर्भरता

Leave a Reply